पुलिस के शहीद

हर साल विभिन्न राज्यों के पुलिस कर्मियों के साथ-साथ सीपीओ / सीएपीएफ के जवान ड्यूटी के दौरान अपना जीवन का बलिदान करते हैं। कुल 35,403 पुलिस कर्मियों ने आजादी के बाद से 31 अगस्त, 2020 तक राष्ट्र की सुरक्षा और आम लोगों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया था। इन पुलिस शहीदों के सम्मान में जिन्होंने अपना जीवन कर्तव्य के लिए लगाया, 21 अक्टूबर को हर साल पुलिस स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन पुलिस शहीदों को याद किया जाता है और उनके सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। नई दिल्ली के चाणक्यपुरी में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक में एक राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है जिसमें राज्य पुलिस, केन्द्रीय पुलिस संगठन एवं के शहीदों के नाम पढ़े जाते हैं और भारत के गृह मंत्री द्वारा स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित किया जाता है। इसी तरह के कार्यक्रम सभी राज्यों में पुलिस बल मुख्यालयों /केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल मुख्यालयों में भी मनाया जाता है।