हॉट स्प्रिंग्स (लद्दाख) में अपनी मातृभूमि की अखंडता की रक्षा करते हुए, 21 अक्टूबर, 1959 को, दस बहादुर पुलिसकर्मियों ने भारी हथियारों से लैस चीनी सैनिकों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में अपनी जान दे दी। चीनी सैनिकों ने अक्साई चिन क्षेत्र में भारतीय सीमा क्षेत्र का उल्लंघन किया था। 1960 के पुलिस महानिरीक्षक  सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी पुलिस संगठनों के प्रमुखों के निर्णय के अनुसार, 21 अक्टूबर को पुलिस बल अधिकारियों के लिए स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिन्होंने अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया। वीर शहीदों की याद में, हॉट स्प्रिंग्स में एक स्मारक समर्पित किया गया, जहां पुलिस दल में विभिन्न राज्य / केंद्रीय बलों के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया, जो हर साल अगस्त / सितंबर में श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।राष्ट्रीय पुलिस स्मारक (एनपीएम), चाणक्यपुरी, नई दिल्ली में बनाया गया जो स्वतंत्रता के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा के संरक्षण एवं अखंडता बनाए रखने में पुलिस कर्मियों द्वारा किए गए बलिदान के सम्मान में माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 21 अक्टूबर, 2018 को राष्ट्र को समर्पित किया गया। स्वतंत्रता के बाद से 31 अगस्त, 2020 तक कुल 35403 पुलिस कर्मियों ने राष्ट्र की सेवा में अपना जीवन लगा दिया है। एनपीएम में एक केंद्रीय स्मारक, एक संग्रहालय और वाल ऑफ वेलर शामिल है।

राष्ट्रीय पुलिस स्मारक के लिए यहां क्लिक करें राष्ट्रीय पुलिस स्मारक